स्मार्ट दुनिया में आज हर कोई स्मार्ट बनता जा रहा है जिसके लिए महंगे महंगे फोनो का चलन भी बढ़ता जा रहा है और ये सभी स्मार्ट फ़ोन प्लेस्टोर के बिना अधूरे है | इसी प्ले स्टोर को चोरो ने अपना अड्डा बना लिया है | प्ले स्टोर पर सात ऐसी फेक बैंक ऍप्लिकेशन्स मौजूद  है | जिसके इस्तेमाल से आप कुछ मिंटो में ही कंगाल हो जायेंगे आपकी  सारी उम्र की कमाई कुछ पलों में ही आपके बैंक अकाउंट से साफ़ हो जाएगी और परिणामस्वरूप आप सड़क पर जायेंगे |

 

कहाँ से हुआ खुलासा ?

 

सुचना प्रौद्योगिकी सुरक्षा से जुड़ा एक महकमा  है सोफोज लैब्स | जो कंप्यूटर सम्बंधित सिक्योरिटी पर नज़र रखता है | सोफोज नें अपनी एक रिपोर्ट में दावा किया है की प्ले स्टोर पर सात ऐसे ऐप्स है जो हू ब हू असली बैंको की ऐप्स की तरह दिखते है क्योंकि इनका आइकॉन (icon) असली बैंको के आइकॉन से मिलता है | जिससे लोग इन फर्जी ऍप्लिकेशन्स पर अपना डाटा डाल देते है | और साईबर चोरी का शिकार हो जाते है | इन मामलो में ज्यादातर लोग पढ़े लिखे होते है जो अधिकतम नेट बैंकिंग जैसी ऍप्लिकेशन्स का इस्तेमाल करते है और धोके से ये फेक ऐप अपने फ़ोन में इंस्टॉल कर लेते है | जिस से की उनकी बैंक की सम्पूर्ण जानकरी  आसानी से चोरो के पास पहुँच जाती है |

फेक ऐप में कौन से सात बैंक है शामिल ?

सोफोज लैब्स ने अपनी रिपोर्ट में बैंको की सूचि सार्वजनिक की है |  जिसमे सात बैंको के नाम शामिल है | जिसकी डुबलीकेट ऐप्स प्ले स्टोर पर मौजूद है | एस बी आई, आई सी आई सी आई बैंक , एक्सिस , इंडियन ओवरसीज़, बैंक ऑफ़ बड़ोदा , यस बैंक और सिटी बैंक शामिल है | अगर आप भी इनमे से किसी बैंक के ग्रहाक है तो सतर्क हो जायें  और अपने फर्जी बैंक ऐप को अपने फ़ोन से अनइनस्टॉल कर दे | फिलहाल एस बी आई ने इस पर कोई टिप्पणी नहीं दी है |

कैसे बचें इन फर्जी ऐप्स से ?

सोफोज लैब्स ने बताया की इन ऐप्स में आकर्षक ऑफर देकर ग्रहाकों को अपनी चपेट में लिया जाता है | इससे यूज़र इन ऐप्स को अपने फ़ोन में डाउनलोड कर लेता | डाउनलोड करते ही फ़ोन में कुछ मैलवेयर घुस जाते है और इन्ही मैलवेयर की सहायता से डाटा चुरा लिया जाता है इसलिए जो भी स्मार्ट फ़ोन का इस्तेमाल करता है उसे अपने फ़ोन में एंटी वायरस रखना चाहिए | जिससे फ़ोन में कोई ऐसा वायरस दाखिल न हो सके एवं उनके अका

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here