सोशल मीडिया की दुनिया में सबसे प्रचलित व प्रसिद्ध फेसबुक आये दिन विवादों के घेरे में आ रही है | आधुनिक जगत में आज हर कोई फेसबुक का कसी न किसी रूप में इस्तेमाल कर रहा है | और किसी से बात चीत के दौरान अपना पर्सनल जानकारियां भी शेयर करता है | पर अगर सोचिये वो प्राइवेट बातें दुनिया के लिए मनोरंजन का साधन बन जाये तो आपको कितनी समस्याओ से गुज़रना पड़ेगा | पर हाल ही में एक रिपोर्ट के बाद ये बात सामने आई है की 81,000 यूज़र्स के फेसबुक अकाउंट से छेड़खानी की गई

 

 हैकर्स करते है कमाई आपके डाटा से

बीबीसी की एक रिपोर्ट के बाद अंदाज़न 81,000 लोगो का अकाउंट हैक किया गया है और इसका इस्तेमाल विज्ञापन के लिए किया जा रहा है | हैक हुए अकाउंट्स के निजी मैसेजो को बेचा भी जा रहा है | बी बी सी ने जो रिपोर्ट पेश की उसके अनुसार हैकर्स इन्हे प्रति अकाउंट 10 सेंट यानि तकरीबन 7 रूपए में बेच रहे थे | जिन फसबुक यूज़र्स के अकाउंट और निजी मैसेजो को बेचा जा रहा है उनमे ज्यादा संख्या में यूक्रेन और रूस के अलावा,अमेरिका और ब्राज़ील के हिस्सों के लोग है |

 

कैसे हुआ खुलासा ?

यह मामला विवादों में इसी साल सितम्बर के महीने में सामने आया जब, एफ बी सेलर (fbsaler) नाम के एक यूज़र्स ने इंटरनेट फॉर्म पर जानकारी दी की वो 120 मिलियन यानि 12 करोड़ अकाउंट्स को बेच रहे है | बाद में यह मुद्दा ज़ोरो पर था तब साइबर सिक्योरिटी फर्म डिजिटल शैडोज़ ने इस केस की करीबी से जांच पड़ताल की तो सामने आया की 81,000 यूज़र्स के अकाउंट हैक कर के उनके निजी मैसजों के साथ बेचा जा रहा था |

 

फेसबुक ने दी टिप्पणी

लगातार कई बार फेसबुक हैकर्स की वजह से शर्मिंदगी झेल रहा है जिससे उसकी नकारत्मक छवि का भी निर्माण हो रहा है पर इस मुद्द्दे पर फेसबुक ने भी अपने हाथ खड़े कर दिए है | फेसबुक ने बी बी सी की  इस रिपोर्ट को खारिज करते हुए फेसबुक अकाउंट हैक होने से साफ़ इन्कार कर दिया है साथ ही सफाई देते हुए कहा की इस पुरे मामले में जो कुछ भी लीक हो रहा है उसमे उसकी कोई गलती नहीं है | फेसबुक के कार्यकारी अधिकारी गाय रोजन बी बी सी से बात करते हुए कहा की ब्राउज़र निर्माताओं से बातचीत करके उनसे ये सुनिश्चित करने की कोशिश की है उनकी स्टोरीज में किसी भी तरह के मालवेयर एक्सटेंशन्स डाउनलोड के लिए उपलब्ध नहीं होना चाहिये |

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here