आज ‘राष्ट्रीय खेल दिवस’ के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फिट इंडिया मूवमेंट की शरुआत करी है। इस अभियान की शुरुआत दिल्ली के इंदिरा गाँधी स्टेडियम में एक कार्यक्रम में की गई है। इस अभियान की शुरुआत में पीएम मोदी ने अपने भाषण में कहा कि आज ही के दिन हमारे देश को मेजर ध्यानचंद जैसे खिलाड़ी मिले थे। इस अभियान के तहत देश ने हेल्दी एंड फिट इंडिया के लिए अपना जरुरी कदम बढ़ा दिया है।

यह तो सभी जानते हैं कि प्रधानमंत्री मोदी अपने स्वास्थ पर काफी ध्यान देते हैं। पीएम मोदी ने कहा कि हमारे पूर्वजों के समय से ही स्वस्थ रहने का फंडा चलता आ रहा है। इस बात को समझाने के लिए पीएम मोदी ने संस्कृत का एक श्लोक भी सुनाया। इसके साथ-साथ उन्होंने स्वस्थ रहने के लाभ भी बताए। उनका कहना है कि फिटनेस, हमारे जीवन के तौर तरीकों का ही अभिन्न अंग है।

पीएम मोदी ने बोला कि कुछ समय पहले तक लोग आराम से पड़ैल चल लिया करते थे, लेकिन आज हम खुद किसी न किसी टेक्नोलॉजी के सहारे यह पता कर लेते हैं की कितने कदम चले।

बीमारियों की बात पर पीएम मोदी ने कहा की आज देश में कई तरह की बीमारियां आ गयी हैं। आज के समय में 30 साल के युवक को भी दिल का दौरा पड़ रहा है। और इसकी वजह है लाइफस्टाइल।

अपने भाषण में उन्होंने कहा कि फिटनेस के लिए सरकार भी अपना काम करेगी लेकिन आपको अपने परिवार के साथ इसके बारे में विचार करना होगा। व्यायाम के उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि व्यायाम करने से हमारी आयु लम्बी होती है। आज हम लोग खाना खाकर डाइटिंग की बात करने लगते हैं। मोबाइल एप डाउनलोड कर तो लेते हैं, लेकिन कभी उसे खोल कर देखते नहीं हैं।

उन्होने कहा कि पहले स्वस्थ्य काम से सिद्ध होता था लेकिन आज स्वार्थ से हो रहा है। उन्होंने इस दिन को युवा खिलाड़ियों को बधाई देने का दिन भी बताया और कहा कि यह युवा निरंतर दुनिया में नयी बुलंदियों को हासिल कर रहे हैं।

इस कार्यक्रम में कई खेलों का प्रदर्शन किया गया। कबड्डी, खो-खो जैसे राष्ट्रीय खेल दिखाए गए। इस मूवमेंट के लिए सभी कॉलेज और विश्विद्यालय को 15 दिन का फिटनेस प्लान तैयार करने का आदेश है। और उसे अपनी अपनी वेबसाइट पर अपलोड करना होगा।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here