#GoBackModi – कुछ समय बाद लोक सभा 2019 के चुनाव होने वाले हैं। इससे पहले सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तमिलनाडु में है। कहा जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अनौपचारिक तौर पर चुनाव शंख बजा सकते हैं। लेकिन तमिलनाडु से आ रही एक खबर सबको हैरान कर सकती है।

रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुदरै में एम्स अस्पताल की आधारशीला कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले थे। इससे पहले ट्वीटर पर उनके नाम से #GoBackModi ट्रेंड करने लगा। इस ट्रेंड की वजह से बीजेपी के लिए परेशानी बढ़ गयी है। ट्वीटर पर ज़्यादातर ट्वीट्स को कार्टून के जरिये दर्शाया जा रहा है। और इन ट्वीट्स में पेरियार को #GoBackModi कहते हुए दिखाया जा रहा है।

#GoBackModi कई कार्टून में प्रधानमंत्री मोदी को भगवा रंग की जैकेट में दिखाया गया। इसके साथ ट्वीटर ही नहीं फेसबुक पर भी काफी लोग इस हैशटैग का इस्तेमाल कर रहे हैं। असल में यह गुस्सा है केंद्र सरकार के लिए। इन ट्वीट्स में बड़े पैमाने पर चक्रवात के बाद लोगों की मदद करने में केंद्र की सरकार की कथित विफलताओं पर राज्य के लोगों की नाराज़गी है। चक्रवात की वजह से कई जिलों में 3 लाख से ज़्यादा लोग बेघर हो गया और 11 लाख पेड़ उजड़ गए। इस चक्रवात के कारण बड़ी संख्या में लोगों को जीविकोपार्जन पर असर पड़ा है।

ख़बरों के अनुसार, आगामी लोकसभा चुनाव के लिए प्रधानमंत्री मोदी तमिलनाडु में भाजपा की एक विशाल चुनावी रैली शुरू करेंगे। तमिलनाडु में भारतीय जनता पार्टी ने किसी भी पार्टी के साथ गठबंधन नहीं किया है। लेकिन चर्चा में यह है कि अन्नाद्रमुक के साथ भाजपा गठबंधन कर सकती है।

सोशल मीडिया पर जारी इस गुस्से की वजह एक और है। वजह है – तूतीकोरिन में स्टरलाइट प्रदर्शन के दौरान गोलीबारी पर प्रधानमंत्री ने चुप्पी साध रखी थी। स्टरलाइट विरोध प्रदर्शन में पुलिस द्वारा की गई गोलीबारी में लगभग 13 लोगों की मौत हो गई थी। यही नहीं, कावेरी जल मामले पर केंद्र सरकार के रवैये की वजह से तमिलनाडु के लोगों में केंद्र सरकार के खिलाफ गुस्सा है। और यह गुस्सा ट्वीटर पर #GoBackModi के रूप में साफ़ दिख रहा है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here