Amitabh Bachchan

Reason Behind Amitabh Bachchan Success: बॉलीवुड एक ऐसी इंडस्ट्री हैं, जिसमें अपनी पहचान बना पाना काफी हद तक मुश्किल हैं। आये दिन ना जाने कितने लोग स्टार बनने का सपना देखते हैं। कुछ के सपने पूरे होते हैं तो कुछ के बीच रास्ते में टूट जाते हैं। लेकिन अगर आप में हुनर हैं। तो कोई ना कोई मिल ही जाता हैं, जो आपके उस हुनर को पहचान आपको मंजिल तक पहुँचने में आपकी मदद करता हैं।

Reason Behind Amitabh Bachchan Success
Reason Behind Amitabh Bachchan Success

बॉलीवुड इंडस्ट्री में सुनील दत्त का नाम इसलिए भी जाना जाता हैं, क्योंकि उन्होनें कई सारे सितारों को बॉलीवुड में ब्रेक दिलाया। इन सितारों में वो नाम भी शामिल हैं, जो बॉलीवुड की शान हैं। जी हम बात कर रहें हैं, बॉलीवुड के महनायक अमिताभ बच्चन की।

दरसअल अमिताभ बच्चन को इंडस्ट्री में ब्रेक दिलाने के पीछे सुनील दत्त का हाथ हैं। लेकिन सवाल यह हैं कि सुनील दत्त ने आखिर अमिताभ बच्चन की मदद क्यों कि?

Reason Behind Amitabh Bachchan Success
Reason Behind Amitabh Bachchan Success

असल में, अमिताभ को सुनील दत्त तक पहुँचने में भारत की पहली महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी का हाथ रहा।

इंदिरा गाँधी ने की थी सिफारिश

बता दें, एक वक़्त था जब गाँधी परिवार के साथ बच्चन परिवार का काफी गहरा रिश्ता था। जिसके चलते प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने सुनील दत्त की पत्नी नरगिस को कॉल कर अपनी दोस्त तेजी बच्चन के बेटे यानि अमिताभ को रोल दिलाने को कहा।

इंदिरा गांधी चाहती थी कि नरगिस अपने पति सुनील दत्त को अमिताभ का ऑडिशन लेने को तैयार कर लें।

Reason Behind Amitabh Bachchan Success
Reason Behind Amitabh Bachchan Success

हालांकि उस वक़्त सुनील के पास कोई काम नहीं था। इसलिए नरगिस बीआर चोपड़ा के पास जा पहुँची। जब चोपड़ा साहब को पता चला कि इंदिरा गांधी ने अमिताभ का नाम सुझाया है तो उन्होंने अमिताभ को निर्देशक मोहन सहगल के पास भेज दिया।

अमिताभ की हाइट बनी थी रुकावट

अमिताभ का पहला ऑडिशन लिया राजश्री प्रोडक्शन्स के ताराचंद बड़जात्या ने। लेकिन उन्होंने यह कह कर अमिताभ को रिजेक्ट कर दिया, कि अमिताभ की लंबाई देख कोई हीरोइन उनके साथ काम नहीं करेगी।

Reason Behind Amitabh Bachchan Success
Reason Behind Amitabh Bachchan Success

दूसरा ऑडिशन में भी नही बनी बात

अमिताभ का दूसरा ऑडिशन बीआर चोपड़ा की सिफारिश पर मोहन सहगल ने लिया। लेकिन यहाँ भी अमिताभ के हाथ निराशा लगी। हालांकि इस ऑडिशन के दौरान स्टूडियो में मनोज कुमार भी मौजूद थे, और जैसे ही उन्हें पता चला कि अमिताभ उनके पसंदीदा कवि के बेटे हैं। तो मनोज कुमार ने उनके साथ बड़े ही नरमी से बर्ताव किया और कहा तुम एक दिन जरुर स्टार बनोगे।

सुनील दत्त ने काम देने का किया वादा

हर जगह से जब अमिताभ के हाथ निराशा ही लगी तब सुनील दत्त बनें उनका सहारा। उन्होंने अमिताभ को वादा किया कि जैसे ही उनके पास अमिताभ के लिए कोई रोल होगा। तो वो अमिताभ को जरुर फोन करेंगे। सुनील दत्त ने सिर्फ वादा ही नहीं किया बल्कि निभाया भी, और अपनी फिल्म ‘रेशमा और शेरा’ में अमिताभ को रोल दिया। इस फिल्म को सुनील दत्त की कंपनी ने प्रोड्यूस किया था।

Reason Behind Amitabh Bachchan Success
Reason Behind Amitabh Bachchan Success

गौरतलब है, सबसे पहले रिलीज होने की वजह से फिल्म ‘सात हिन्दुस्तानी’ को अमिताभ की पहली फिल्म माना जाता है क्योंकि यह फिल्म ‘रेशमा और शेरा’ से पहले रिलीज़ हो गई थी। बहरहाल उन्होंने सबसे पहले ‘रेशमा और शेरा’ में रोल मिला था।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here