सीडब्लूएसी की मीटिंग में बैठे तीनों पार्टी नेता – सोनिया गाँधी, राहुल गाँधी और मनमोहन सिंह।

पिछले दिनों कांग्रेस के नए अध्यक्ष के पद को लेकर पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी बड़ी चिंता में थे। उन्हें चिंता थी की नया उम्मीदवार या कांग्रेस अध्यक्ष कौन होगा? जब से पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी ने अपना पद छोड़ा है तब से कांग्रेस के कई नेताओं ने भी अपना पद से इस्तीफा दे दिया। इसको लेकर ख़बरों में खूब चर्चा हुई। विधायकों के इस्तीफे को लेकर जो बात सामने आ रही थीं, उन्हें सुनकर तो यही लग रहा था की मामला काफी गंभीर बनता जा रहा है। नए उम्मीदवार के लिए राहुल गाँधी चाहते थे, की कोई युवा ही अब कांग्रेस की बाग़ डोर संभाले। खबरें तो यह भी आयीं थी की उमीदवार गाँधी परिवार से नहीं होगा।  

शनिवार को कांग्रेस पार्टी की एक बैठक शुरू हो चुकी है। बैठक है शीर्ष नीति निर्धारण इकाई कार्य समिति (सीडब्लूसी) की। इस बैठक में कांग्रेस पार्टी के नए अध्यक्ष के चयन के बारे में कोई महत्वपूर्ण निर्णय लिया जा सकता है। बैठक में शामिल नेताओं में है – संसदीय दाल की नेता सोनिया गाँधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पूर्व पार्टी अध्यक्ष राहुल गाँधी, पार्टी महासचिव प्रियंका गाँधी, वरिष्ठ नेता अहमद पटेल, एके एंटनी, गुलाम नबी आज़ाद, मल्लिकार्जुन खड़गे के साथ अन्य नेता।

मीडिया की रिपोर्ट्स के अनुसार, सीडब्लूएसी ने पार्टी में शामिल वरिष्ठ नेताओं को पांच टीमों में बाँट दिया है। इन नेताओं का काम है विभिन्न प्रदेशों के नेताओं से बात करके ही नए उम्मीदवार का चुनाव करना। इस बैठक से पहले पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक मीटिंग में कहा था कि पार्टी नए उम्मीदवार के लिए बड़ा फैसला ले सकती है।

बैठक से बाहर आए सोनिया गाँधी और राहुल गाँधी

उधर, कांग्रेस पार्टी की संसदीय दाल की नेता सोनिया गाँधी और राहुल गाँधी सीडब्ल्यूसी की बैठक से बहार आ गए हैं। सोनिया गाँधी ने मीडिया से कहा की मैं और राहुल अध्यक्ष चुनने की प्रक्रिया का हिस्सा नहीं हो सकते। उन्होंने यह भी कहा कि बैठक में उनका नाम गलती से लिया गया है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here